मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जन आशीर्वाद यात्रा लेकर पीसीसी चीफ कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा पहुंचे. चुरहट में उनके रथ पर पत्थरबाज़ी के संदर्भ में शिवराज ने सीधे कहा, मित्र कमलनाथ सोचें कि कांग्रेस किस दिशा में राजनीति ले जाना चाहती है.

चुरहट में जन आशीर्वाद यात्रा के रथ पर पथराव का ज़िक्र किए बिना शिवराज सिंह ने सीधे आरोप लगा कि कांग्रेस पत्थर चलवा रही है. ऐसा पहले कभी नहीं हुआ.राजनीति विचारों के आधार पर होती है.
मित्र कमलनाथ सोचें कांग्रेस किस दिशा में राजनीति ले जाना चाहती है. अगर कांग्रेस बदला लेना चाहती है तो मुझसे ले गरीबों से नहीं. सीएम ने कहा कमलनाथ बताएं कि छिंदवाड़ा मॉडल क्या था. कमलनाथ तो दिग्विजय सिंह से मिलकर सरकार चलाते थे.

छिंदवाड़ा पहुंचे शिवराज सिंह चौहान ने कहा, इस ज़िले की जनता ने जो प्यार दिया उससे मैं अभिभूत हूं. मैंने मेहनत से जनता के हित में काम किया. मध्य प्रदेश के लोग मेरा परिवार हैं. जनता की तकलीफें देखकर योजना बनायी गयीं. लेकिन कांग्रेस के नेता मुझे सहन नहीं कर पा रहे हैं. मुझ पर झूठे आरोप लगाए गए.डंपर ख़रीद में घोटाले की बात की गयी. विशेष न्यायालय में मामला गलत पाया है.


हाई कोर्ट ने भी मामला खारिज कर दिया. व्यापम में मुझे ही कटघरे में खड़ा किया गया. मेरे परिवार पर भी आरोप लगाया जिससे मेरी पत्नी व्यथित हुई. शिवराज सिंह ने फिर दोहराया कि SC/ST एक्ट में एमपी में बिना जांच के गिरफ़्तारी नहीं की जाएगी. SC/ST एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं होगा.