भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर शहरी नक्सलियों का समर्थन करने का आरोप लगाया, जो प्रधानमंत्री की हत्या का षड्यंत्र रच रहे थे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश में वर्ष 2019 में एक बार फिर भाजपा की सरकार आएगी, तब एक भी घुसपैठिए को यहां नहीं रहने दिया जाएगा।
अमित शाह ने रायपुर में भाजपा के शाक्ति केंद्र कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि यह आमसभा नहीं बल्कि भाजपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन है। चुनाव चाहे वर्ष 2018 का हो या वर्ष 2019 का, यह चुनाव सांसद, विधायक, मंत्रियों, मुख्यमंत्री का चुनाव नहीं बल्कि भाजपा के कार्यकर्ताओं का चुनाव है। कोई भी चुनाव नेता नहीं जीतता बल्कि कार्यकर्ता जीतते हैं।

शाह ने कहा कि देश में 2019 में एक बार फिर भाजपा की सरकार आएगी तब एक भी धुसपैठिए को यहां नहीं रहने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और संप्रग के पूरे कुनबे को देश की सुरक्षा की कोई चिंता नहीं है। राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) आया तब प्रारंभिक जानकारी मिली कि यहां 40 लाख घुसपैठिये हैं। इसके बाद घुसपैठियों की चिंता शुरू हो गई। उनके मानवाधिकार को लेकर चिंता की गई।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को इसका जवाब देना चाहिए कि क्या उनको घुसपैठियों का मानवाधिकार दिखता है, वहां (असम) रहने वाले बच्चों का मानवाधिकार नहीं दिखता। उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ रमन सरकार और उनकी पूरी टीम लगातार काम कर रही है। छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का सफाया हो रहा है, नक्सलियों पर नकेल कसी जा रही है। इससे अन्य राज्यों को दिशा मिली है। 
उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में इस वर्ष के अंत में विधानसभा चुनाव होना है। पिछले 15 वर्षों से सत्ता में काबिज भाजपा ने इस बार 90 में से 65 सीटें जीतकर चौथी बार सरकार बनाने का लक्ष्य तय किया है। इस दौरान मुख्यमंत्री रमन सिंह, पार्टी की महासचिव सरोज पांडेय, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, रमन मंत्रिमंडल के सदस्य और अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे। 
  
भाजपा 10 सदस्य से 15 करोड़ कार्यकर्ताओं की पार्टी बनी  
 शाह ने कहा कि हम सरकार जनता की खुशी और आदिवासियों के हितों में काम करने के लिए बनाते हैं। जब जनसंघ की स्थापना हुई तब 10 सदस्य थे। आज यह पार्टी 15 करोड़ तेजतर्रार कार्यकर्ताओं की पार्टी बन गई है। देश में 70 फीसदी भूभाग पर भाजपा का झंडा लहरा रहा है। आज हम जहां पहुंचे हैं इसके लिए कई लोगों ने अपना पूरा जीवन दे दिया है। हम ऐसा काम करें और हमारी ऐसी विजय हो कि आने वाले 50 साल तक पंचायत से लेकर संसद तक भाजपा का दबदबा कायम रहे। 

 
सिंधी समुदाय के धार्मिक स्थान शदानी दरबार पहुंचे शाह

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को सिंधी समुदाय के धार्मिक स्थान शदानी दरबार का दौरा किया और सिंधी समाज से भाजपा के लिए समर्थन मांगा। एक दिवसीय यात्रा पर रायपुर पहुंचने के बाद शाह सीधे भाजपा प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर के करीब स्थित शदानी दरबार गए। यहां उन्होंने सिंधी समाज के प्रमुख लोगों से मुलाकात की।

छत्तीसगढ़ में इस वर्ष के अंत में विधानसभा चुनाव होना है। शाह का शदाणी दरबार दौरा सिंधी समाज को लुभाने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है। सिंधी समुदाय राज्य में बड़ी संख्या में निवास करता है तथा यहां के प्रमुख व्यवसाय में सिंधी समाज के लोगों का कब्जा है। राज्य में रायपुर उत्तर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के श्रीचंद सुंदरानी सिंधी समुदाय से एकमात्र विधायक हैं।