मध्य प्रदेश चुनाव में सत्तारूढ़ बीजेपी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. टिकट नहीं मिलने से नाराज नेताओं का दलबदल कार्यक्रम जारी है. बीजेपी के असंतुष्ट नेता कांग्रेस का दामन थाम रहे हैं तो वहीं कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर कुछ नेता बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

ताजा मामला धार का है, जहां धरमपुरी से बीजेपी विधायक कालूसिंह ठाकुर इस बार टिकिट नहीं मिलने से नाराज हो गए हैं. वर्तमान विधायक हजारों कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ बीजेपी छोड़कर दूसरी पार्टी ज्वाइन करने की तैयारी कर रहे है.

बता दें कि धरमपुरी विधायक  कालूसिंह ठाकुर ने बीजेपी से टिकिट के लिए दावेदारी पेश की थी. लेकिन पार्टी ने उन्हे टिकिट नहीं देते हुए बाहरी उम्मीदवार गोपाल कन्नौज को यहां से टिकिट दे दिया है. जिससे क्षेत्र के कार्यकर्ता और नेता नाराज है.
इसके पहले पूर्व मंत्री जगदीश मुवेल ने गोपाल कन्नौज का पुतला फूंककर नाराजगी जताई थी और अब धरमपुरी विधायक कालूसिंह ठाकुर ने बगावती तेवर अपनाते हुए अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ जाकर नामांकन फार्म ले लिया है. वे अब शिवसेना या बहुजन समाज पार्टी का दामन थामने पर विचार कर रहे हैं. कालूसिंह ठाकुर का कहना है कि अगर बीजेपी उन्हें टिकिट नहीं देती है, तो वे अपने समर्थको के साथ बीजेपी छोड़कर शिवसेना या फिर बसपा से चुनाव लड़ेंगे.