मेलबर्न:ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में एक शख्स ने एक कार को आग के हवाले कर दिया और तीन लोगों को चाकू घोंप दी, जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई. विदेशी नागरिकों को निशाना बनाने के इरादे से किए गए इस हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है.

बहरहाल पुलिस की गोली लगने से हमलावर बुरी तरह से घायल हो गया और उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया. विक्टोरिया पुलिस के मुख्य आयुक्त ग्राहम एश्टन ने बताया कि तीन नागरिकों पर चाकू से वार करने वाले और पुलिस अधिकारियों पर हमला करने वाले शख्स ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

'अब हम इसे आतंकवादी मामले के तौर पर देख रहे हैं' 
एश्टन ने बताया,‘अब हम इसे आतंकवादी मामले के तौर पर देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि संदिग्ध को हम पहचानते हैं.’ अधिकारी ने कहा, ‘‘इस वक्त मैं आरोपी की पहचान नहीं बता सकता, क्योंकि मामले में हम आतंकवाद रोधी जांच कर रहे हैं. पुलिस शख्स को पहचानती है. पुलिस उसे मुख्यत: उसके रिश्तेदारों के कारण जानती है, जो पुलिस के निशाने पर हैं. विक्टोरिया पुलिस और संघीय खुफिया एजेंसी दोनों उसके बारे में जानती हैं.’हालांकि ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने कहा कि 31 वर्षीय हमलावर मेलबर्न के उत्तर पश्चिम उपनगरों में रहता था और वह सोमालिया से आया था.
अधिकारियों ने बताया कि शहर की व्यस्त मुख्य सड़क पर पुलिस अधिकारियों के साथ संघर्ष में उसे गोली लग गई. गंभीर हालत में उसे हिरासत में ले लिया गया. बहरहाल रॉयल मेलबर्न अस्पताल में गोली लगने से घायल आरोपी ने दम तोड़ दिया.

इस्लामिक स्टेट के प्रचार संगठन ‘अमाक’ ने कहा, ‘मेलबर्न में... अभियान को अंजाम देने वाला इस्लामिक स्टेट का एक लड़ाका था... गठबंधन देशों के नागरिकों निशाना बनाने के इरादे से इसे अंजाम दिया गया.’ बता दें ऑस्ट्रेलिया, इराक एवं अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई लड़ रही अमेरिका के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना में योगदान करता है.

अधिकारियों के चार बजे कार में आग लगने की सूचना मिली 
अधिकारियों को शुरू में शाम चार बजकर 20 मिनट (स्थानीय समयानुसार) पर व्यस्त बुर्के स्ट्रीट के पास एक कार में आग लगने की सूचना मिली थी. सुपरींटेंडेंट डेविड क्लेटॉन ने बताया, ‘जैसे ही वे कार से उतरे एक शख्स से उनका सामना हुआ जिसके पास चाकू था. उसने उन्हें धमकी भी दी.’

एश्टन ने बताया कि एक चार पहिया वाहन को रसेल और स्वांस्टन स्ट्रीट के बीच स्थित बुर्के स्ट्रीट पर देखा गया. यह शख्स उसी वाहन के अंदर मौजूद था. उन्होंने बताया कि इसके बाद वाहन में आग भड़क उठी और वह उससे बाहर आया.

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मैरिसन ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया इस तरह के कायराना हमलों से कभी नहीं डरेगा. विक्टोरिया के प्रधानमंत्री डेनियल एंड्रयूज ने इस हमले को ‘दुष्टतापूर्ण और खौफनाक’ कहा है.