नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने GPF (जनरल प्रोविडेंट फंड) की ब्याज दर को घटाने का फैसला लिया है. सरकार ने GPF पर जुलाई से सितंबर के लिए ब्याज दर को 7.9 फीसदी रखने का फैसला लिया गया है. केंद्र सरकार ने पिछली तिमाही में (GPF) जनरल प्रोविडेंट फंड पर ब्याज दर 8 प्रतिशत रखी थी. GPF की ब्याज दरें सभी केंद्र सरकार के कर्मचारियों, रेलवे और रक्षा बलों के प्रोविडेंट फंड पर लागू होती हैं.

एक जुलाई से लागू होंगी नई ब्याज दरें
वित्त मंत्रालय की ओस से जारी एक अधिसूचना में जानकारी दी गई है कि GPF (जनरल प्रोविडेंट फंड) और पर 1 जुलाई 2019 से 30 सितंबर 2019 तक ब्याज दर 7.9 फीसदी  रहेगी. यह दर एक जुलाई 2019 से लागू मानी जाएगी. सरकार ने हाल ही में छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती की थी. सरकार ने पीपीएफ और सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम की ब्याज दरों में 10 बेसिस प्वाइंट की कटौती की थी.

इन पर पड़ेगा असर
- इंडियन ऑर्डनेंस डिपार्टमेंट प्रोविडेंट फंड
- जनरल प्रोविडेंट फंड (सेंट्रल सर्विसेज)
- कंट्रीब्यूटरी प्रोविडेंट फंड (इंडिया)
- जनरल प्रोविडेंट फंड (डिफेंस सर्विसेज)
- डिफेंस सर्विसेज ऑफिसर्स प्रोविडेंट फंड
- स्टेट रेलवे प्रोविडेंट फंड
- इंडियन ऑर्डनेंस फैक्ट्रीज वर्कमैन प्रोविडेंट फंड
- आर्म्ड फोर्सेस पर्सनल प्रोविडेंट फंड
- इंडियन नेवल डॉकयार्ड वर्कमैन प्रोविडेंट फंड