नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने सोमवार को चंद्रयान-2 (Chandrayaan 2) को लेकर पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन (Fawad Chaudhry) द्वारा की गई बेहूदा टिपण्णी पर उन्हें जमकर लताड़ लगाई. सिंह ने कहा कि पाकिस्तान की हालत खस्ता है और वह भारत की सफलता और असलफता को लेकर चिंतित है. 

दरअसल, चंद्रयान की चंद्रमा की सतह पर लैंडिंग से ठीक पहले लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के बाद पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने बेहूदा टिपण्णी करते हुए ट्वीट किया था -जो काम आता नहीं पंगा नहीं लेते ना.... डियर 'एंडिया'. फवाद ने ट्वीट में व्यंग्य करते हुए इंडिया की जगह एंडिया लिखा. फवाद यहीं नहीं रुके. उन्होंने एक भारतीय यूजर के ट्वीट पर बड़े बेशर्मी से रिट्वीट किया. एक ट्वीट में भारतीय यूजर अभय कश्यप के ट्वीट पर रिट्वीट करते हुए लिखा- सो जा भाई मून की बजाय मुंबई में उतर गया खिलौना. फवाद की ओछी हरकत पर भारतीय यूजर्स ने उन्हें जमकर लताड़ा था. 
"दोनों मुल्क एक साथ आजाद हुए. उन्हें हमारे चंद्रयान-2 मिशन की सफलता या असफलता को लेकर चिंतित नहीं होना चाहिए. हम चांद पर पहुंच गए हैं लेकिन वे (पाकिस्तान)  अभी भी गधों को एक्सपोर्ट करने पर अटके हुए हैं." उन्होंने आगे कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एयरस्पेस का इस्तेमाल नहीं करने देने का पाकिस्तान का फैसला दुखद निर्णय है और इससे अंतरराष्ट्रीय समुदाय में पाकिस्तान हंसी का पात्र बनेगा.
उन्होंने कहा, "यह पड़ोसी देश का दुखद व्यवहार है. वे कश्मीर मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र जाते हैं लेकिन वहां से खाली हाथ ही लौटना पड़ता है. इससे पाकिस्तान को कुछ भी नहीं मिलेगा."  सिंह ने हमला बोलते हुए कहा कि अगर पाकिस्तान हमसे मुकाबला ही करना चाहता है तो उन्हें तकनीकी और विकास के मामले में करना चाहिए. 

सिंह ने कहा, "यदि आप (पाकिस्तान) भारत से मुकाबला करना चाहता है तो अग्रिम तकनीकी के मामले में करे. गरीबी, भुखमरी और अन्य मुद्दों पर करे जिससे संदेश जाएगा कि वे अपनी स्थिति सुधारने का प्रयास कर रहे हैं."