मुंबई: आखिरकार शिव सेना को विधायकों की खरीद-फरोख्त का डर सताने लगा है। उसने तय किया है कि सभी विधायकों को एक जगह पर शिफ्ट किया जाए ताकि भाजपा सेंधमारी न कर सके।  
  योजना के अनुसार इस दौरान सभी विधायकों के फोन ले लिए जाएंगे और उन्हें किसी से भी संपर्क नहीं करने दिया जाएगा। सिर्फ घरवालों से कॉमन लैंडलाइन के जरिये ही उनकी बात कराई जाएगी।
भाजपा नेता आज 2 बजे राज्यपाल से मुलाकात करके राज्य में नई बनने वाले सरकार के बारे बातचीत करेंगे। राज्यपाल के साथ इस बैठक में बीजेपी के बड़े नेता शामिल हो सकते हैं।सूत्रों के अनुसार, आरएसएस नेता भैय्या जी जोशी ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से बात की। इस बातचीत के बाद हो सकता है कि आज शिवसेना-भाजपा के बीच कुछ बातचीत शुरू हो। 
 फिलहाल आज की दिन महाराष्ट्र की राजनीति के लिए काफी गर्म दिन होने की उम्मीद है। भाजपा जहां शिवसेना के साथ या बिना शिवसेना के अपने पक्ष में विधायकों को जुटाने की कोशिश करेगी तो दूसरी पार्टियां जीतकर आए अपने विधायकों पर पूरी तरह से नजर बनाकर रखेंगी।