आकलैंड । भारतीय टीम रविवार को होने वाले दूसरे टी-20 मुकाबले से पहले टीम में कोई बदलाव करे इसकी संभावना कम है। लेकिन गेंदबाजी विभाग में कुछ बदलाव हो सकता है। जसप्रीत बुमराह शुक्रवार को श्रृंखला के शुरूआती मुकाबले में दोनों टीमों में एकमात्र वे गेंदबाज थे जिन्होंने आठ रन प्रति ओवर से कम रन दिए थे। मोहम्मद शमी (चार ओवर में 53 रन देकर कोई विकेट नहीं) और शार्दुल ठाकुर (तीन ओवर में 44 रन देकर एक विकेट) पर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने इच्छानुसार बाउंड्री लगाई थी। इसके बाद शमी के अंतिम एकादश में अपना स्थान बरकरार रखने की उम्मीद है,इसकारण ठाकुर की जगह नवदीप सैनी को शामिल किया जा सकता है। हालांकि सैनी अपनी अतिरिक्त तेजी के कारण इस छोटे मैदान पर ज्यादा रन लुटा सकते हैं। यह देखना होगा कि भारत तीन विशेषज्ञ तेज गेंदबाजों और दो स्पिनरों के संयोजन पर बना रहता है या फिर कुलदीप यादव को टीम में युजवेंद्र चहल और रवींद्र जडेजा के साथ शामिल कर सकता है। 
भारत के पास वाशिंगटन सुंदर दूसरा स्पिन विकल्प हैं।अगर भारत अतिरिक्त स्पिनर उतारता है तो आलराउंडर शिवम दुबे तीसरे तेज गेंदबाजी का विकल्प हो सकते है। परिस्थितियों को देखते हुए जडेजा और चहल ने शुक्रवार को अच्छा प्रदर्शन किया था इन दोनों ने एक एक विकेट लिया। इसके अलावा चहल और कुलदीप एकदिवसीय विश्व कप समाप्त होने के बाद से एक साथ नहीं मैदान में उतरे हैं। बल्लेबाजी में कोहली कप्तान के रूप में संतुष्ट थे कि मध्यक्रम ने दबाव में टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया। श्रेयस अय्यर ने 29 गेंद में नाबाद 58 रन की पारी खेलकर अपना चौथा स्थान मजबूत कर लिया है। 
भारतीय टीम के लिए रवानगी से पहले लगातार फेरबदल करने को लेकर चिंता बनी हुई थी जैसा कि 2019 विश्व कप से पहले वनडे टीम में हुआ था। अय्यर की फार्म ने उन सभी चिंताओं को समाप्त कर दिया है। इस बल्लेबाज ने पिछले साल सितंबर से भारत के सभी 12 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 11 पारियों में 34.14 के औसत से दो अर्धशतक जमाये और इनमें उनका स्ट्राइक रेट 154.19 रहा। लोकेश राहुल के विकेटकीपिंग कौशल के साथ मनीष पांडे और दुबे के बारी बारी मैच फिनिश करने की जिम्मेदारियां निभाने से भारत का टी20 बल्लेबाजी लाइन-अप संतुलित लगता है। 
हिट हो रहे हैं अय्यर और राहुल
टीम के लिए रवानगी से पहले लगातार फेरबदल करने को लेकर चिंता बनी हुई थी जैसा कि 2019 वर्ल्ड कप से पहले वनडे टीम में हुआ था। अय्यर की फॉर्म ने उन सभी चिंताओं को समाप्त कर दिया है। बल्लेबाज ने पिछले साल सितंबर से भारत के सभी 12 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 11 पारियों में 34.14 के औसत से दो अर्धशतक जमाये और इनमें उनका स्ट्राइक रेट 154.19 रहा। वहीं लोकेश राहुल के विकेटकीपिंग कौशल के साथ मनीष पांडे और दुबे के बारी-बारी मैच फिनिश करने की जिम्मेदारियां निभाने से भारत का टी-20 बल्लेबाजी लाइन-अप संतुलित लगता है। न्यूजीलैंड की टीम महसूस कर रही होगी कि उसका कुल स्कोर 10-15 रन कम रह गया और साथ ही मैदान में गंवाए मौकों से मेहमान बल्लेबाजों ने फायदा उठाया।
टीमें इस प्रकार हैं: भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), मनीष पांडे, ऋषभ पंत, संजू सैमसन, श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी और वाशिंगटन सुंदर। 
न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, रॉस टेलर, स्कॉट कुगेलेजिन, कॉलिन मुनरो, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, टॉम ब्रूस, डेरिल मिशेल, मिशेल सैंटनर, टिम सिफर्ट (विकेटकीपर), हैमिश बेनेट, ईश सोढ़ी, टिम साउदी, ब्लेयर टिकनर। भारतीय समयानुसार मैच दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर शुरू होगा।