अहमदाबाद | वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए 24 मार्च से 14 अप्रैल तक संपूर्ण भारत को लॉकडाउन किया गया है| देशव्यापी बंदी को गुजरात में जबर्दस्त समर्थन मिला है| पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने बताया कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल के मार्गदर्शन में लॉकडाउन के दौरान राज्य के किसी नागरिकों को कोई मुश्किल न हो इसका खास ध्यान रखा जा रहा है| राज्य के सभी नागरिकों को दूध, सब्जी, फल, अनाज समेत आवश्यक वस्तुएं सरलता से उपलब्ध हों ऐसी व्यवस्था के लिए पुलिस को संवेदनशीलता के साथ काम करने का आदेश दिया गया है| उन्होंने गुजरातभर में लॉकडाउन को मिले अपूर्व समर्थन की प्रशंसा करते हुए आगामी दिनों में ऐसा ही सहयोग करने की राज्य के प्रत्येक नागरिकों से अपील की| शिवानंद झा ने कहा कि फिलहाल सोशल डिस्टन्सिंग बरकरार रखन जरूरी है और जिसका राज्य के नागरिक पालन कर रहे हैं| जहां नागरिकों का सहयोग नहीं मिल रहा है, वहां सख्ती से लॉकडाउन का अमल करवाया जा रहा है| लॉकडाउन लागू होने के बाद अब तक की गई कड़ी कार्रवाई की जानकारी देते हुए पुलिस महानिदेशक ने बताया कि 24 मार्च तक अब तक सार्वजनिक अधिसूचना का उल्लंघन करने के 191 और कोरन्टाइन किए गए व्यक्तियों द्वारा कानून का उल्लंघन करने पर 89 मामले दर्ज किए गए हैं| इसके अंतर्गत 353 लोगों को हिरासत में लिया गया है| राज्य में अब तक आदेश का उल्लंघन के कुल 490 और कोरन्टाइन का उल्लंघन करने के 236 मामले दर्ज हुए हैं और इसके तहत कुल 897 लोगों को हिरासत में लिया गया है|