चेन्नई| तमिलनाडु के नेवेली (Neyveli) में नेवेली लिग्नाइट कॉर्पोरेशन (एनएलसी) में बॉयरल ब्लास्ट हुआ है. एनएलसी के पास खुद की फायर बिग्रेड टीम है, जो हालात पर काबू पाने की कोशिश कर रही है. इसके साथ ही हालात का जायजा लेने के लिए कुड्डालोर जिला प्रशासन की एक टीम मौके पर पहुंच गई है.

अभी धमाके के कारण पता नहीं चल पाया है. शुरुआती रिपोर्ट में बॉयलर ब्लास्ट के कारण पांच लोगों की मौत और 17 लोगों के घायल होने की खबर है. संभावना जताई जा रही है कि हताहतों की संख्या बढ़ सकती है. ऐसा ही ब्लास्ट 7 मई को हुआ था, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई थी.

7 मई को नेवेली पॉवर प्लांट में बॉयलर ब्लास्ट हुआ था. हादसा 84 मीटर ऊंचाई वाले बॉयलर में हुआ था. उस समय कर्मचारी और टेक्नीशियन 32 मीटर पर मौजूद थे. ब्लास्ट के बाद सीआईएसएफ की फायर विंग ने आग पर काबू पाया है. इस हादसे में कई लोग घायल हो गए थे, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई थी.

इस हादसे के बाद कंपनी ने कहा था कि एनएलसी ने मामले की जांच के लिए 6 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है, जिसकी अगुवाई जनरल मैनेजर करेंगे. कमेटी पूरे हादसे की जांच के साथ ही भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए जरूरी कदम उठाएंगे. मई के हादसे के एक महीने बाद फिर बॉयलर ब्लास्ट हुआ है.