फोर्ट लॉडरडेल । एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका के 40 से 50 राज्यों में पुष्ट मामलों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।  चार जुलाई को अमेरिकी स्वतंत्रता दिवस से पहले कोरोना वायरस के मामलों का बढ़ना चिंता का एक विषय बन गया है। अमेरिका के चार राज्यों एरिजोना, कैलिफोर्निया, फ्लोरिडा और टेक्सास में बृहस्पतिवार को कुल 25,000 नए मामले सामने आए थे।वहीं देश में रोजाना 50,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं।अमेरिका में संक्रामक रोग के शीर्ष विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची ने अमेरिका चिकित्सक संघ के ‘लाइवस्ट्रीम’ में कहा था, ‘‘ हमने एक बेहद परेशान करने वाला सप्ताह देखा है।’’स्थिति की गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि अभी तक मास्क पहनने के नियम को लागू करने से इनकार कर रहे टेक्सास के रिपब्लिकन गवर्नर ग्रेज एबॉट ने लोगों को मास्क पहनने का आदेश दिया है। इन बढ़ते मामलों का कारण लॉकडाउन के हटने के बाद अमेरिकी नागरिकों का मास्क ना पहनना और सामाजिक दूरी ना बनाना माना जा रहा है।फाउची ने आगाह किया कि अगर लोगों ने बात मानना शुरू नहीं किया तो, ‘‘ हम कुछ गंभीर पेरशानियों में पड़ सकते हैं।’’‘जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय’ के अनुसार अमेरिका में 51,200 नए मामले आए थे। ‘कोविड ट्रैकिंग प्रोजेक्ट’ द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार 10 को छोड़कर सभी राज्यों में पिछले 14 दिन में नए मामले तेजी से बढ़े हैं। अरिजोना, टेक्सास और फ्लोरिडा में हालत बेहद खराब है। कैलिफोर्निया के अलावा यहां भी बार, रेस्तरां और सिनेमाघर पिछले कुछ सप्ताह से दोबारा बंद कर दिए गए हैं। पूर्वोत्तर के बाहर केवल नेब्रास्का और दक्षिण डकोटा में कोविड-19 के मामले कम हुए हैं। वहीं नेवेडा में मामले तीन गुना और इडाहू में मामले पांच गुना बढ़े हैं। अमेरिका में मामले ऐसे समय बढ़ रहे हैं जब देश चार जुलाई को स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने की ओर बढ़ रहा है। इस बीच, सरकार की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में बेरोजगारी दर घट का 11.1 प्रतिशत हो गई, जिसका कारण 48 लाख नौकरियों का सृजन करना है। ‘जॉन हॉपकिन्स’ के अनुसार दुनिया में कोविड-19 के सबसे अधिक करीब 27 लाख मामले अमेरिका में ही सामने आए हैं। वहीं यहां इससे 1,28,000 लोगों की जान जा चुकी है। दुनिया भर में कोविड-19 के 1.7 करोड़ मामले सामने आए हैं और 5,17,000 लोगों की इससे जान जा चुकी है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने इसके मद्देनजर आगाह किया है कि बड़ी संख्या में लोगों के इकट्ठे होकर जश्न मनाने से वायरस के मामले और तेजी से बढ़ सकते हैं। कई नगर निकायों ने आतिशबाजी के कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। वहीं कैलिफोर्निया और फ्लोरिडा में ‘बीच’ बंद रहेंगे।