लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के इलाज और बचाव के लिए आइवरमेक्टिन टैबलेट का इस्तेमाल करने का निर्देश जारी किया है.

आइवरमेक्टिन टैबलेट का इस्तेमाल हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की जगह किया जाएगा. कोरोना संक्रमित और उनके संपर्क में आए लोगों के साथ ही स्वास्थ्यकर्मियों को भी ये दवा दी जाएगी.

आपको बता दें कि दिल्ली के एम्स, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और मैक्स हॉस्पिटल के साथ ही देश के कई अस्पतालों में आइवरमेक्टिन टैबलेट का इस्तेमाल किया जा रहा है.

स्वास्थ्य विभाग कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आए लोगों को संभावित संक्रमण से बचाने के लिए ये दवा देने का निर्देश दिया है.

बता दें कि 4 अगस्त को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग, उत्तर प्रदेश के महानिदेशक की अध्यक्षता में तकनीकी विशेषज्ञों की बैठक में कोरोना के इलाज और बचाव के लिए आइवरमेक्टिन टैबलेट का इस्तेमाल करने पर चर्चा हुई थी, जिसके बाद अगले दिन इसका इस्तेमाल करने के लिए निर्देश जारी किए गए.