रीवा 11 जनवरी 2022. कमिश्नर कार्यालय में आयोजित संभागीय बैठक में कमिश्नर अनिल सुचारी ने संभागीय पेंशन कार्यालय, ऊर्जा विभाग, खाद्य विभाग तथा नागरिक आपूर्ति विभाग के कार्यों की समीक्षा की। पेंशन प्रकरणों की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने कहा कि सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी हमारे अपने परिवार के सदस्य हैं। उनके लंबित पेंशन प्रकरण निराकृत करने के लिए विशेष प्रयास करें। न्यायालय अथवा विभागीय जांच से संबंधित पेंशन प्रकरणों को छोड़कर शेष सभी प्रकरणों को 15 दिवस में निराकृत करें। पेंशन प्रकरण प्रस्तुत करने वाले कार्यालय प्रमुखों को नोटिस जारी करें। रीवा जिले के लगभग 200 पेंशन प्रकरण निराकरण की स्थिति में हैं। इनका जनवरी माह में निराकरण करके संबंधित को पीपीओ जारी करें। जिन विभागों में दस से अधिक पेंशन प्रकरण लंबित हैं उनके कार्यालय प्रमुखों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित करें।

 

ऊर्जा विभाग की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने कहा कि बिगड़े ट्रांसफार्मर समय पर सुधारें। ट्रांसफार्मरों के बदलने की शिकायतें सभी जिलों से मिल रही हैं। सतना जिले में ट्रांसफार्मरों के बड़ी संख्या में खराब होने के संबंध में प्रतिवेदन दें। निर्धारित राशि जमा होने के बाद तीन दिवस में अनिवार्य रूप से ट्रांसफार्मर बदल दें। संभाग के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों तथा स्कूलों में जल जीवन मिशन से पानी की आपूर्ति के लिए बिजली का कनेक्शन तत्काल प्रदान करें। किसी भी नल जल योजना के कनेक्शन काटें। बिगड़े ट्रांसफार्मरों के बदलने के संबंध में हर सप्ताह जिलेवार रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

 

बैठक में कमिश्नर ने कहा कि आपूर्ति नियंत्रक आवंटित खाद्यान्न के समय पर उठाव तथा वितरण सुनिश्चित करें। रीवा जिले को छोड़कर शेष जिले में दो माह के लिए आवंटित खाद्यान्न का 90 प्रतिशत से कम उठाव हुआ है। आवंटित खाद्यान्न का 15 जनवरी तक शत-प्रतिशत उठाव कराकर वितरण कराएं। जनसंपर्क विभाग तथा सोशल मीडिया के माध्यम से हितग्राहियों को दो माह के खाद्यान्न वितरण की जानकारी दें। हितग्राहियों को जनवरी तथा फरवरी माह का खाद्यान्न दिया जा रहा है। राज्य सरकार के साथ-साथ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में भी दो माह का खाद्यान्न एक साथ दिया जा रहा है। कमिश्नर ने धान उपार्जन के संबंध में निर्देश देते हुए कहा कि रीवा जिले को छोड़कर शेष जिलों में धान के परिवहन तथा किसानों को भुगतान की स्थिति संतोषजनक नहीं हैं। समय पर परिवहन होने से कई केन्द्रों में धान भीगने की जानकारी मिली है। उपार्जित धान का समय पर भण्डारण कराएं। बैठक में उप संचालक सतीश निगम, क्षेत्रीय प्रबंधक नागरिक आपूर्ति जेके सरशाह, जिला आपूर्ति नियंत्रक सीआर कौशल, अधीक्षण यंत्री ऊर्जा आईके त्रिपाठी उपस्थित रहे।