रीवा 12 जनवरी 2022. स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस के अवसर पर पूरे प्रदेश के साथ-साथ रीवा जिले में भी स्वरोजगार मेला आयोजित किया गया। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कृष्णा राजकपूर ऑडिटोरियम रीवा में उपस्थित दो स्वरोजगारियों पार्थ पाण्डेय तथा नीतू अग्रवाल से संवाद किया। उन्होंने अच्छा स्वरोजगार स्थापित करने के लिए हितग्राहियों को शुभकामनाएं दी। स्वरोजगार मेले में शामिल हितग्राहियों को वीडियो कान्फ्रेंसिंग से मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोजगार तथा स्वरोजगार देना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। पिछले दो महीने में प्रदेश भर में स्वरोजगार के पांच लाख 25 हजार से अधिक प्रकरण स्वीकृत किए गए। इनसे लाभान्वित पांच लाख से अधिक हितग्राहियों को आज स्वरोजगार मेले में हितलाभ का वितरण किया जा रहा है। इसके लिए संबंधित विभागों तथा बैंक अधिकारियों को ह्मदय से धन्यवाद देता हूँ। प्रदेश में अब हर माह रोजगार मेले आयोजित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज स्वामी विवेकानंद जी की जयंती है। उन्होंने कहा था कि 21वीं सदी भारत की सदी होगी। भारत विश्व का सिरमौर बनकर उभरेगा। एक नरेन्द्र (स्वामी विवेकानंद) ने जो भविष्यवाणी की थी उसे दूसरा नरेन्द्र (प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी) पूरा करने के लिए प्राणपण से जुटा हुआ है। हम सब प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में एक नए देश का उदय होते हुए देख रहे हैं। कोरोना के संकटकाल में उन्होंने देश को आत्मनिर्भरता का मंत्र दिया। उसी के अनुरूप आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए हमारी सरकार लगातार प्रयास कर रही है। हर परिवार जब रोजगार और स्वरोजगार अपनाकर आत्मनिर्भर बनेगा तभी मध्यप्रदेश आत्मनिर्भर होगा। इसके लिए सरकार लघु उद्योगों के विकास, कौशल प्रशिक्षण, कक्षा 6 के बाद से ही विद्यार्थियों को कौशल की शिक्षा एवं नवाचार स्टार्टअप को सहयोग देकर युवाओं को आगे बढ़ने का अवसर देंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आजीविका मिशन की 12 लाख से अधिक बहनों को दो हजार करोड़ रुपए के बैंक लिंकेज का लाभ दिया गया है। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में प्रदेश देश में प्रथम स्थान पर है। मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना से भी ढाई लाख युवाओं को स्वरोजगार के लिए राशि दी गई है। समारोह में उद्योग मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने भी अपने विचार व्यक्त किए। प्रमुख सचिव उद्योग श्री पी नरहरि स्वरोजगार मेले के उद्देश्यों एवं उपलब्धियों की जानकारी दी।