केरल , केरल में बाढ़ और भूस्खलन के चलते हुई 19,512 करोड़ रुपये के नुकसान की रिपोर्ट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राज्य के लिए 500 करोड़ रुपये का अंतरिम राहत पैकेज देने का ऐलान किया. इस बारे में सवाल किए जाने पर सीएम पिनराई विजयन ने कहा कि यह वक्त आरोप-प्रत्यारोप का नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'हम हर संभव मदद दी जा रही है. एयर मार्शल ने और ज्यादा हेलीकॉप्टर्स भेजने का वादा किया और हमनें भी सरकार को बताया कि हमें और मदद की दरकार है.'

दरअसल केरल में 15 दिनों से हो रही भारी बारिश और बाढ़ के चलते हालात बेहद बदतर हो गए हैं. लैंडस्लाइड और बाढ़ से अब तक 324 लोगों की जान जा चुकी है. करीब तीन लाख लोग बेघर बताए जा रहे हैं. सेना के साथ एनडीआरएफ की टीमें राहत कार्य में जुटी हैं. करीब 2 लाख 23 हजार लोगों को 1500 राहत शिविरों में पहुंचाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कोच्चि में मुख्यमंत्री विजयन सहित तमाम आला अधिकारियों के साथ मंथन किया. इस दौरान केरल के सीएम पिनराई विजयन ने पीएम मोदी को बताया कि बाढ़ और लैंडस्लाइड से राज्य को कुल 19, 512 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. इस मीटिंग के बाद प्रधानमंत्री मोदी हवाई सर्वे कर बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने को निकले. इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी से केरल बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की है.

केरल सरकार ने बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए डोनेशन देने की अपील की है. आप donation.cmdrf.kerala.gov.in के जरिये बाढ़ पीड़ितों की मदद कर सकते हैं. इसके अलावा सरकार ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है.

इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री राहत कोष से केरल के लिए 10 करोड़ रुपये की सहायती राशि देने का ऐलान किया. वहीं ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने पांच करोड़ रुपये की सहायता के अलावा बचाव अभियान के लिए 245 अग्निशमन कर्मियों को नौकाओं के साथ केरल भेजने का ऐलान किया.

केरल के 11 जिलों में दोबारा रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है. बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दबाव के क्षेत्र के कारण यहां एक बार भारी बारिश की आशंका है. इससे पहले कई जगहों से रेड अलर्ट हटाते हुए राज्य के बस दो जिलों- एर्नाकुलम और इडुक्की के लिए ही इसे सीमित रखा गया था.

बाढ़ को लेकर केरल के सीएम पिनराई विजयन ने जानकारी दी कि आज पीएम ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया. उन्होंने राज्य के लिए 500 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है. राज्य सरकार ने इस पैकेज के लिए पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया है. केंद्र से ज्यादा हेलीकॉप्टर और नावों की मांग भी की गई है.

केरल में मूसलाधार बारिश और बाढ़ ने भयंकर तबाही मचा रखी है. बारिश ने पिछले 100 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. पिछले 15 दिनों से हो रही भारी बारिश ने राज्य में तबाही मचा रही है. पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को हवाई सर्वे कर बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लिया और राहत कार्य के लिए 500 करोड़ के अतिरिक्त पैकेज का ऐलान किया. इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम से केरल बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की गुजारिश की है.

यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE) ने केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है. UAE सरकार ने लोगों की मदद करने के लिए एक कमेटी बनाने का फैसला किया है. केरल में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के चलते लाखों लोग बेघर हो गए हैं. साल 1924 के बाद पहली बार केरल में इतनी खतरनाक बाढ़ आई है.

केरल में मूसलाधार बारिश और बाढ़ ने पिछले 100 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. पिछले 15 दिनों से हो रही भारी बारिश ने राज्य में तबाही मचा रही है. तीनों सेना, जल पुलिस और एनडीआरएफ की टीमें बाढ़ प्रभावित इलाकों में बचाव व राहत कार्य में जुटी है. इस बीच शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम पिनराई विजयन के साथ मीटिंग कर केरल की बाढ़ स्थिति की समीक्षा की. पीएम ने केरल के लिए 500 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है. मीटिंग के बाद पीएम मोदी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे भी किया.