मध्य प्रदेश के दक्षिण पश्चिम इलाकों और गुजरात समेत मध्य महाराष्ट्र के ऊपर बने हवा के कम दबाव के क्षेत्र के कारण की जिलों में भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक एक दूसरा सिस्टम बंगाल की खाड़ी में बन रहा है, जिसके असर के कारण 19 अगस्त के बाद प्रदेश में एक बार फिर अच्छी बारिश होने की संभावना है.

हालांकि भोपाल समेत कुछ इलाकों में फिलहाल हल्की बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने नीमच, मंदसौर, खरगोन, उज्जैन, रतलाम, धार, शाजापुर, आगर, बुरहानपुर, अलीराजपुर और झाबुआ में शनिवार को भारी बारिश की चेतावनी दी है. खरगोन जिले के भीकनगांव व सेगांव में शुक्रवार को 9-9 इंच बारिश हुई.

मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक उत्तर-पश्चिम मप्र के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र और चक्रवाती हवाओं का घेरा भी बना है. इस वजह से मालवा-निमाड़ तेज में बारिश हो रही है.