पटना ।बिहार लोक सेवा आयोग की मुख्य परीक्षा में पूछा गया एक प्रश्न पर अब विवाद हो रहा है। बिहार में राज्यपाल की भूमिका पर सवाल उठाते हुए एक विस्तृत प्रश्न पूछा गया है।
बिहार लोकसेवा आयोग ने प्रश्न पूछा है कि क्या राज्यपाल, विशेष रूप से बिहार में केवल एक कठपुतली है?लोक सेवा आयोग में प्रश्न पूछा गया है, 'भारत में राज्य की राजनीति में राज्यपाल की भूमिका का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए, विशेष रूप से बिहार के संदर्भ में। क्या वह केवल एक कठपुतली है।' इस प्रश्न के बाद से ही सोशल मीडिया पर भी लोग राज्यपाल की भूमिका पर सवाल खड़े कर रहे हैं। साथ ही कुछ लोग आयोग के इस प्रश्न पर भी सवाल उठा रहे हैं. लोगों का कहना है कि इस प्रश्न से एक संवैधानिक पद की भूमिका पर ही सवाल उठ रहे हैं। साथ ही एक अन्य सवाल में पूछा गया है कि भारतीय संविधान अपनी प्रस्तावना में भारत को एक समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित करता है। इसके साथ इस घोषणा को क्रियान्वित करने के लिए कौन-कौन से संवैधानक उपबंध दिए गए हैं। लोकसेवा आयोग के प्रश्न तुलनात्मक रूप से अलग तरह से पूछे जाते हैं। इसके पीछे मंशा होती है कि विद्यार्थी अवधारणात्मक रूप से सही जवाब दे सके। प्रश्न पूछने के पीछे यह भी मंशा हो सकती है कि परिक्षार्थी ऐसे प्रश्नों का उत्तर किस दृष्टिकोण के साथ देते हैं।