​विशाखापत्तनम । भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ हो रहे पहले टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा छक्के लगाने सहित कई रिकॉर्ड अपने नाम किए। पहली पारी में 176 रन बनाने वाले रोहित शर्मा दूसरी पारी में 127 बनाकर स्टंप हुए। लेकिन इसके पहले रोहित ने इस मैच में कुल 13 छक्के लगाए। उन्होंने पहली पारी में छह और दूसरी में सात छक्के लगाए। इसके बाद एक मैच में 13 छक्के लगाने वाले रोहित ने पाकिस्तान के वसीम अकरम के रिकॉर्ड को तोड़ा। अकरम ने अक्टूबर 1996 में नाबाद 257 रन की पारी में 12 छक्के लगाए थे। इस मैच की दूसरी पारी में रोहित शर्मा ने जैसे ही अपना 9वां सिक्स जड़ाकर पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू के रिकॉर्ड को तोड़ा दिया। इसके बाद भी उन्होंने छक्कों की बरसात जारी रखी और इस पारी में कुल 7 छक्के लगाएं। उन्होंने अपनी दूसरी पारी का 7वां छक्का पीट की गेंद पर जड़ा। इसी के साथ उन्होंने एक टेस्ट मैच में सर्वाधिक सिक्स जड़ने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।
सिद्धू ने श्रीलंका के खिलाफ जनवरी 1994 में लखनऊ में खेले गए टेस्ट मैच में एक मैच में 8 छक्के लगाए थे। उन्होंने मैच की पहली पारी में ही यह रिकॉर्ड बनाया था, जिस मैच में दूसरी पारी खेलने की जरूरत ही नहीं पड़ी। सिद्धू ने तब 124 रन की पारी खेली जिसके लिए 223 गेंदों पर 9 चौके और 8 छक्के लगाए। भारत ने यह मैच पारी और 119 रन से जीता था। रोहित शर्मा भारत के लिए एक वनडे इंटरनैशनल मैच में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज भी हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2 नवंबर 2013 को बेंगलुरु में अपनी 209 रन की पारी के दौरान कुल 16 छक्के लगाए थे। रोहित ही टी20 इंटरनैशनल में भारत के लिए एक मैच में सर्वाधिक सिक्स लगाने वाले क्रिकेटर हैं। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ इंदौर में 22 दिसंबर 2017 को 118 रन की शतकीय पारी के दौरान 10 छक्के जड़े थे।
रोहित शर्मा टेस्ट मैच की दोनों पारी में सेंचुरी लगाने वाले छठे बल्लेबाज बन गए। विजय हजारे पहले भारतीय बल्लेबाज थे जिन्होंने टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाया था। सुनील गावसकर ने तीन बार,राहुल द्रविड़ ने दो बार यह कारनामा किया है। कप्तान कोहली और अजिंक्य रहाणे भी टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगा चुके हैं। रोहित ने भारत में अपने टेस्ट पारियों में लगातार सातवीं बार 50 का आंकड़ा पार किया।इसके पहले इवरटन वीक्स (नवंबर 1948-फरवरी 1949), राहुल द्रविड़ (नवंबर 1997-मार्च 1998), एंडी फ्लावर (मार्च 1993-नवंबर 2000) रोहित शर्मा ने ओपनर के तौर पर अपने पहले ही टेस्ट मैच सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। रोहित ने इस मैच में 303 रन बनाए। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के कैप्टर वेसल्स के रिकॉर्ड को तोड़ा। वेसल्स ने इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिसबेन में 1982/83 में 208 (162 और 46) रन बनाए थे। रोहित मैच की दोनों पारियों में स्टंप हुए। दोनों पारियों में क्विंटन डि कॉक ने उन्हें केशव महाराज की गेंद पर स्टंप किया। वह एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में स्टंप होने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं।