नई दिल्ली। भारत की एक अरब से अधिक आबादी बुधवार को तीन सप्ताह के लिए लॉकडाउन हो गई है। दुनिया के एक तिहाई लोग घर के अंदर कैद होकर रह गए हैं। कोरोनो वायरस की महामारी ने जापान को अगले साल तक ओलंपिक स्थगित करने के लिए मजबूर कर दिया है। भारत ने अपने 1.3 बिलियन लोगों को (दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी) को तीन सप्ताह के लिए घर पर रहने का आदेश दिया है। उधर, अमेरिका में कोरोना वायरस के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं और अब तक इस महामारी से देश में 706 लोगों की मौत हो चुकी है। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। 
सीएसएसई के मुताबिक अमेरिका में अब तक कोरोना संक्रमण के 53,740 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में इससे सर्वाधिक मौतें हुई हैं, जिसके बाद किंग्स काउंटी में इस महामारी का प्रकोप देखने को मिला है। जर्मनी में कोरोना वायरस (कोविड-19) के एक दिन में 4,764 नए मामले सामने आए हैं, जिससे यहां इस महामारी से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 31,370 हो गई है। रॉबर्ट कोच संस्थान (आरकेआई) ने मंगलवार को यह जानकारी दी। जर्मनी में कोरोना के कारण अब तक 133 लोगों की मौत हो चुकी है। 
फ्रांस में वैश्विक महामारी के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1100 हो गई है। फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ओलिवियर वीरन ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से 240 लोगों की मौत हुई है। वीरन के मुताबिक फ्रांस में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 22,300 हो गए हैं। इसके अलावा वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बुरी तरह प्रभावित इटली में इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6820 हो गई है। इटली के नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रमुख एंजेलो बोरेली ने मंगलवार को टेलीविजन पर एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कोरोना वायरस से 743 लोगों की मौत हुई है। श्री बोरेली के मुताबिक मंगलवार को इटली में कोरोना संक्रमण के 5249 नए मामले सामने आए हैं जिससे संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 69176 हो गई है। इटली में अब तक कोरोना के 8326 मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इटली में 21 फरवरी को कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। गौरतलब है कि इटली का लोम्बाडीह प्रांत इस महामारी से सर्वाधिक प्रभावित है।