अहमदाबाद| जाने-माने एस्ट्रोलॉजर (ज्योतिषी) बेजान दारूवाला का शुक्रवार (29 मई) को कोविड-19 संक्रमण की वजह से अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। 90 वर्षीय दारूवाला बीते 22 मई को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। उन्हें पहले से भी फेफड़े की तकलीफ थी। उनके बेटे नस्तूर दारूवाला ने अहमदाबाद के बाहरी इलाके में बने अपोलो अस्पताल में उनके निधन की पुष्टि की।
अपोलो अस्पताल ने भी इस बात की पुष्टि की है कि उपचार के दौरान दारूवाला का निधन हो गया। वहीं, सोशल मीडिया पर आई खबर का खंडन करते हुए उनके पुत्र नस्तूर दारूवाला ने कहा कि उनके पिता कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं थे। नस्तूर ने बताया कि उनके पिता सिर्फ निमोनिया से ग्रस्त थे। 
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी समेत कई गणमान्य लोगों ने उनके निधन पर शोक जताया है। रूपाणी ने ट्विटर पर लिखा, "प्रसिद्ध ज्योतिषी श्री बेजन दारूवाला के निधन से दुखी हूं। मैं दिवंगत आत्मा के लिए प्रार्थना करता हूं। मेरी संवेदना। ओम् शांति.."
11 जुलाई 1931 को जन्में (अब वह क्षेत्र पाकिस्तान में) श्री दारूवाला पारसी थे। वह गणेशा के नाम से रोचक अंदाज में भविष्यवाणी करते थे। अहमदाबाद में अंग्रेजी में के प्रोफेसर रह चुके दारूवाला को कोरोना होने की पुष्टि अहमदाबाद महानगरपालिका की ओर से जारी सूची में की गई थी।
बेजान दारूवाला अपनी कुछ चर्चित भविष्यवाणियों के लिए जाने जाते थे। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी, मोरारजी देसाई और नरेंद्र मोदी की जीत की भविष्यवाणी के अलावा राजीव गांधी की हत्या की भविष्यवाणी भी की थी। दारूवाला ने यह भविष्यवाणी भी की थी कि संजय गांधी की दुर्घटना में मौत होगी। 23 जून 1980 को संजय गांधी की सफदरजंग हवाई अड्डे के पास एक विमान दुर्घटना में उनकी मौत हुई थी।
कोरोना संक्रमण से गुजरात और विशेष रूप से अहमदाबाद गंभीर रूप से प्रभावित है। यहां संक्रमण के साढ़े पंद्रह हजार से अधिक मामले सामने आए हैं, जिनमे से 11 हजार से अधिक अकेले अहमदाबाद में हैं। राज्य भर में हुई मौतों में से 80 प्रतिशत से अधिक अहमदाबाद में हुई है।