अपराधियों को संरक्षण न दे। जो देगा उसे मैं देख लूंगा। कानून व्यवस्था प्रथम प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय से वीडियो कांन्फ्रेन्स द्वारा प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा की। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि किसी भी स्थिति में अपराध सहन नहीं होंगे। चौहान ने कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति और अपराध बढ़ने के लिए जिम्मेदार और दोषी अधिकारियों को हटाने की कार्यवाही की जायेगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि पुलिस बिना किसी दवाब के काम करे। इसके लिए विशेष अभियान भी चलाया जाए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि घटना हुई तो टीआई, थानेदार ही नहीं वरिष्ठ अधिकारी भी जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि किसी की चिंता न करे, कोई अपराधियों को संरक्षण न दे। जो देगा उसे मैं देख लूंगा। कानून व्यवस्था प्रथम प्राथमिकता है।

 मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है, यहाँ अपराध बर्दाश्त नहीं करूंगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अपराधियों को क्रश करें, अपराधियो में पुलिस का ख़ौफ़ रहे। मुख्यमंत्र चौहान ने पुलिस अधीक्षकों से कहा कि बदमाशों की सूची बनाइये। ये समाज के दुश्मन हैं। इन पर सख्त कार्यवाही की जाये।