बिलासपुर । भारत में 26/11 जैसे हमले दोहराने की धमकी सोशल मीडिया पर देने वाले के खिलाफ कोतवाली थाने में मामला दर्ज कराया गया है। बिलासपुर के करबला, आटा चक्की के पास रहने वाले हैदर अली ने अपने व्हाट्सएप से स्टेटस जारी कर आतंकवादी अजमल कसाब की तस्वीर शेयर करते हुए धमकी दी है कि फिर से 26/11 जैसे आतंकवादी हमले हो सकते हैं और रोक सको तो रोक लो, फिर रोना मत। दरअसल अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास के बाद से सोशल मीडिया पर एक वर्ग द्वारा इसी तरह की प्रतिक्रिया खुलकर जाहिर की जा रही है ।जब उस समाज के बड़े-बड़े नेता ही मंदिर के खिलाफ आग उगल रहे हैं तो उसका असर समाज के लोगों पर तो पडऩा ही था ।जब राम मंदिर मामले में अदालती लड़ाई चल रही थी तब इसी वर्ग के नेताओं ने कहा था कि अदालत का जो भी फैसला होगा वह उन्हें मंजूर होगा लेकिन भारत के सर्वोच्च अदालत द्वारा दिए गए फैसले की अवमानना करते हुए लगातार धमकी दी जा रही है कि बनने वाले राम मंदिर को तोड़ दिया जाएगा।
उन्हीं धमकियों में से एक यह भी धमकी है, जिसमें भारत और हिंदू समाज पर 26/11 जैसेहमले करवाने की बात कहते हुए कसाब जैसे को अपना हीरो बताया जा रहा है। यह किसी भी स्वस्थ समाज के लिए बेहद चिंताजनक विषय है देश में अराजकता और अपने ही देश में हमला कराने की मानसिकता के खिलाफ शहर के जागरूक युवाओं ने आक्रोश जाहिए किया है, जिन्होंने कहा कि यह पोस्ट सीधा सीधा आतंकवाद से जुड़कर देश को नुकसान पहुंचाने की धमकी और देश के खिलाफ षड्यंत्र है , इसलिए करण सिंह ने धर्मांध हो चुके हैदर अली के खिलाफ कोतवाली थाने में मामला दर्ज कराया है। इस मामले में बिलासपुर आईजी दीपांशु काबरा से मिलकर उनको भी जानकारी दी गई है। शुक्रवार शाम को कोतवाली थाने पहुंचकर हैदर अली के खिलाफ शिकायत दर्ज कराया गया है, बताया जा रहा है कि आईजी के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने हैदर अली को थाने जरूर बुला लिया था लेकिन उसके खिलाफ अभी तक एफ आई आर दर्ज नहीं की गई है। वहीं पुलिस उसे नशेड़ी बताकर उसके इस जघन्य अपराध पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही हैं, इसे लेकर भी शिकायत दर्ज कराने पहुंचे युवकों में खासी नाराजगी है, जिन्होंने बताया कि इस तरह की हरकत करने के बाद भी आरोपी युवक थाने में आराम से गुटखा खाते हुए इधर-उधर घूम रहा था जैसे वह कोई मेहमान हो। शिकायत दर्ज कराते हुए करण सिंह ने यह भी बताया कि इससे पहले भी हैदर अली द्वारा सोशल मीडिया पर देश और हिंदू धर्म के खिलाफ इसी तरह के कई पोस्ट किए गए हैं।अब देखने वाली बात यह होगी कि कोतवाली पुलिस इस आरोपी के खिलाफ किन धाराओं के तहत मामला दर्ज करती है।