देहरादून । उत्तरकाशी में लगातार जारी मूसलाधार बारिश आफत बनकर टूट पड़ी। जिला मुख्यालय के पास स्थित मांडो गांव में रविवार देर रात बादल फट गया। इससे पानी और मलबे की चपेट में आने से दो महिलाओं समेत चार लोग लापता हो गए हैं जबकि तीन अन्य लोगों की मौत हो गई। गांव के लोगों को मदद मुहैया करवाने के उद्देश्य से प्रशासन का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। एसडीआरएफ के टीम इंचार्ज जगदंगा प्रसाद ने बताया कि मांडो गांव में बादल फटने के बाद तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि चार लोग लापता हो गए हैं। इनकी तलाश के लिए सर्च अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि  गांव में ही तीन अन्य लोग गणेश बहादुर, रविन्द्रऔर रामबालक यादव इस हादसे में हो गए हैं। तीनों का जिला अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। वहीं, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि बादल फटने के बाद मांडो गदेरे के उफान पर आने से मांडो गांव के कई घरों में मलबा और पानी घुस गया। उन्होंने बताया कि भटवाड़ी ब्लॉक के कंकराड़ी, निरकोट और सिरोर में भी बारिश से नुकसान की सूचना है। कंकराड़ी गांव में एक मकान क्षतिग्रस्त होने की जानकारी मिली हे। गांव के लिए एनडीआरएफ व तहसीलदार को रवाना किया गया है। उधर, डीएम मयूर दीक्षित ने अस्पताल प्रशासन को सतर्क रहने को कहा है।