मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मंगलवार को कैबिनेट मीटिंग की। यह मीटिंग वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस दौरान कई अहम फैसले लिए गए। कैबिनेट बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी। असमय बारिश के चलते जिन किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा है, उनके लिए भी राहत की घोषणा की गई है। 

सर्वे करके किया जाएगा आंकलन

मुख्यमंत्री ने कैबिनेट बैठक के दौरान कहा कि असमय वर्षा के चलते प्रदेश के कुछ भागों में फसलों को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि  जहां फसलों को नुकसान हुआ है, वहां सर्वे के निर्देश दे दिए गए हैं। सर्वे करके क्षति का आंकलन किया जाएगा और किसानों को राहत पहुंचाई जाएगी। सीएम ने आश्वासन दिया कि किसान भाई बहन चिंता ना करें मैं साथ हूं, सरकार साथ है।
 

बिजली पर देंगे सब्सिडी

मंत्री परिषद की बैठक में किसानों को 15 हजार 7 सौ 22 करोड रुपए की सब्सिडी देने का निर्णय लिया गया। घरेलू उपभोक्ताओं को गृह ज्योति योजना अंतर्गत 5000 की करोड़ रुपए की सब्सिडी दिए जाने का भी मंत्री परिषद ने अनुमोदन किया है। सीएम ने कहा कि हमने तय किया है कि बिजली की आपूर्ति बाधित नहीं होना चाहिए। इसके लिए बिजली कंपनी को सहायता की जरूरत थी।  साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संकट के इस दौर में अनावश्यक बिजली ना जलाएं। उन्होंने कहा कि यह अपना ही पैसा है, इसलिए हम बिजली बचाएं।

आपका राशन आपके द्वारा योजना

इसके अलावा आचार संहिता वाले क्षेत्रों को छोड़कर आदिवासी विकास खंडों में राशन आपके द्वार योजना लागू की गई है। ‘आपका राशन आपके द्वार’ योजना के तहत प्रदेश के 89  ब्लॉक में आदिवासी परिवारों को राशन मिलेगा। हालांकि जिन जिलों में चुनाव है वहां अभी योजना का लाभ नहीं मिलेगा। यह मुख्यमंत्री की पूर्व में की गई घोषणा है। साथ ही 15 नवम्बर को आदिवासी गौरव दिवस मनाए जाने की भी घोषणा हुई।