रीवा 17 जून 2022. कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में पंचायत चुनाव तथा नगरीय निकाय चुनाव को लेकर राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को संयुक्त बैठक आयोजित की गई। बैठक में रीवा संभाग के कमिश्नर अनिल सुचारी ने कहा कि राजस्व तथा पुलिस अधिकारी मिलकर क्षेत्र का दौरा करें। अपराधियों के विरूद्ध मौके पर ही प्रतिबंधात्मक कार्यवाही कराकर अंतरिम रूप से बाउण्ड ओवर कराएं। क्षेत्र के मैदानी कर्मचारियों से चुनाव के संबंध में निरंतर फीडबैक प्राप्त करते रहें। पटवारी, कोटवार, ग्राम पंचायत सचिव, ग्राम रक्षा समिति के सदस्य तथा अन्य व्यक्ति आपको उपयोगी जानकारी दे सकते हैं। मतदान केन्द्रों का भी भ्रमण कर लें। वर्षाकाल को ध्यान में रखकर मतदान केन्द्रों में व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। केन्द्र में पानी से बचाव की उचित व्यवस्था होना आवश्यक है।

                कमिश्नर ने कहा कि राजस्व तथा पुलिस अधिकारी चुनाव के पहले यदि पर्याप्त परिश्रम कर लेंगे तो निर्वाचन कार्य सुगमता से पूरा हो जाएगा। अभी हमने यदि कोताही बरती तो आगे कई साल भाग-दौड़ करती रहनी पड़ेगी। अपने सूचना तंत्र को मजबूत रखें। प्रत्येक पंचायत में तीन से पांच व्यक्तियों के मोबाइल नम्बर अपने पास रखें जिनसे आपको उपयोगी सूचना मिल सके। अधिकारी क्षेत्र का जितना अधिक भ्रमण करेंगे उसका उतना ही व्यापक असर होगा। गांवों में होने वाली सामान्य मारपीट की घटना भी चुनाव से जुड़ी हो सकती है। शराब की अवैध बिक्री और परिवहन पर भी कड़ी कार्यवाही करें। किसी भी स्थिति में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए शराब का उपयोग नहीं होने दें।

                बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक केपी व्यंकटेश्वर रावने कहा कि पुलिस अधिकारी अपराधियों की गतिविधि पर कड़ी नजर रखें। जिन क्षेत्रों में गत चुनावों के समय हुई घटना घटित हुई है वहाँ पर विशेष ध्यान दें। चुनाव से जुड़े अपराधों में लिप्त सभी असामाजिक तत्वों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही कराएं। जिन व्यक्तियों ने हथियार जमा नहीं कराए हैं उनके लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही करें। अधिकारी वर्षा के कारण सड़क अवरूद्ध होने पर वैकल्पिक मार्ग से पोलिंग पार्टी को लेकर जाने और वापस लेकर आने के संबंध में भी पहले से तैयारी कर लें। चुनाव के समय पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल तैनात रहेंगे। मतदान केन्द्रों में बल की तैनाती के साथ बड़ी संख्या में मोबाइल टीमें भी क्षेत्र में तैनात रहेंगी। इस समय दो चुनाव एक साथ हो रहे हैं। कलेक्टर और एसपी इनमें बलों की तैनाती के संबंध में पूरी प्लानिंग कर लें। सोशल मीडिया में भी कई भ्रामक खबरें और सूचनाएं भेजकर वातावरण को दूषित करने का प्रयास किया जाता है। इन पर भी कड़ी निगरानी रखें। शराब का चुनाव में दुरूपयोग करने का जो भी प्रयास करे उस पर कड़ी कार्यवाही करें। बैठक में कलेक्टर मनोज पुष्प ने निर्वाचन के दौरान की जा रही व्यवस्थाओं की जानकारी दी। बैठक में पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार वर्मा, अपर कलेक्टर शैलेन्द्र सिंह, सभी एसडीएम, एसडीओपी, थाना प्रभारी, रिटर्निंग ऑफीसर तथा अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।